वाराणसी: नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस में स्थित सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय में आयोजित हालिया छात्रसंघ चुनाव में चारों पद कांग्रेस के विंग NSUI के पैनल को मिली हैं.

इस चुनाव में अध्यक्ष पद पर प्रिया चौबे, उपाध्यक्ष पद पर रंजीत कुमार तिवारी, महामंत्री पद पर नरेंद्र कुमार मिश्रा और पुस्तकालय मंत्री पद पर ललित कुमार शर्मा चुने गए हैं.

बीते साल तक छात्रसंघ में सिर्फ अध्यक्ष का पद NSUI के पास था, बाकी सभी पद ABVP के पास थे.

बातचीत में उपाध्यक्ष रंजीत तिवारी ने बताया कि यहां बहुत दिनों तक NSUI का कोई बेस नहीं था, लेकिन उन्होंने और उनके पैनल के बाकी लोगों ने मेहनत के बाद यह जीत हासिल की है.

ज्ञात हो कि प्रदेश की पिछली मायावती सरकार ने छात्रसंघ चुनावों पर रोक लगा दी थी. इसके बाद प्रदेश भर में प्रदर्शन हुए थे. समाजवादी पार्टी की सरकार आने के साथ ही छात्रसंघों को बहाल किया गया, तब से प्रदेश स्तर के कॉलेजों, महाविद्यालयों और विश्व्विद्यालयों में हर साल छात्रसंघ चुनाव आयोजित हो रहे हैं.

एक और तथ्य है कि इस दफा प्रिया चौबे के अध्यक्षा चुने जाने के बाद वे बनारस में छात्रसंघ अध्यक्ष के तौर पर दूसरी महिला प्रत्याशी हो गयी हैं. उनके पहले बीते साल काशी विद्यापीठ में ABVP के पैनल से आयुषी श्रीमाली अध्यक्ष बन चुकी हैं.

यह भी बात है कि जीत दर्ज करने वाले सभी प्रत्याशी ब्राह्मण हैं. इसका स्पष्टीकरण मांगने पर कोई पुख्ता जवाब नहीं मिल पाता है, लेकिन इससे सेकुलर राजनीति के भीतर फैली जातिवादी व्यवस्था की भी कलई खुल जाती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here