Costly wedding-cards, platters, cash-envelopes in marriages: We should take lead to stop menace

By MADHU AGRAWAL It has become a fashion and trend of people from upper-middle and higher income groups to spend heavily on fancy wedding-invitation cards made of wood and cardboard worth several thousands of rupees each...

Accountability and transparency required in marriage-related expenses

By MADHU AGRAWAL A District Collector of Bharatpur (Rajasthan) in the year 2012 made it compulsory to print dates of birth on marriage-cards, making it mandatory for printing-presses to first getting attested birth-certificates to avoid sealing...

What is History?

Yash Nawaz for YuvaAdda.com What is history? Is It only a subject or a theory? Is it about our imagination or our past…? If we think of it as a concept then how do...

खुशियों का पिटारा…

दिल करता है वही बचपन लौट आए पानी में तैरती कश्ती हम फिर बनाएं तितली जुगनूं संग उड़ते जाएं ज़िंदगी की उलझने हमें छू भी न पाएं बेफिक्री की ज़िंदगी जीते जाएं दिल करता है वही बचपन लौट आए पानी...

जामिया में राजनीतिक इफ़्तार पार्टी के ख़िलाफ़ छात्रों की उठती आवाज़

मीरान हैदर कल से मेरे ज़ेहन में ये बात घूम रही है कि ओखला विधायक और अबुल फ़ज़ल वार्ड के काउंसलर ने जामिया मिल्लिया इस्लामिया में 15 जून को जो इफ्तार पार्टी रखी है, वो...

Don’t remind me every time that I am a Girl

Anshul Ghiloria Almost every woman, every girl child at some point has faced discrimination. She has at some point feared the society. I am proud of the parents who scold their sons as much as...

पीजी की लड़कियां: दूर से दिखने वाली आज़ादी सिर्फ़ आज़ादी नहीं है…

Anida saifi, YuvaAdda.com घर और शहर से दूर रहकर काम करना कोई बच्चों का खेल नहीं है. दूर से दिखने वाली आज़ादी सिर्फ़ आज़ादी नहीं होती, साथ में टोकरा भर ज़िम्मेदारियां भी मिलती हैं. बेग़ाने...

Just tried to hold them back but I loose…

Tried to hold them back... Fought with all that i had… Ignored the screams and the voices inside... After all the efforts and all the fights… Holding a blade again after a long time… About to release my DEMONS Watching...

कौन हूं मैं…?

  मैं वो हूं जो दुनिया में आने के लिए लड़ती हूं मैं वो हूं जो बचपन से छोटे भाई-बहनों के बोझ को ढोती हूं मैं वो हूं जो समाज की गंदी नज़रों से देखी जाती हूं मैं...

जामिया गर्ल्स हॉस्टल : यहां रात में होता क्या है?

Aashi Saifi for YuvaAdda "हर किसी को ज़िन्दगी में एक बार हॉस्टल लाइफ़ ज़रूर जीनी चाहिए." ये किसी महापुरुष ने नहीं, बल्कि हॉस्टल से निकलने वाली एक छात्रा ने कहा है जो घर से दूर...